Sunday, April 11, 2021
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > अखिलेश यादव को प्रयागराज जाने से रोकना अलोकतांत्रिक ।

अखिलेश यादव को प्रयागराज जाने से रोकना अलोकतांत्रिक ।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्मयंत्री श्री अखिलेश यादव को मंगलवार को अमौसी एयरपोर्ट पर इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने प्रयागराज जाने से रोकने पर राजद के राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने भाजपा की योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा है । राजद के राष्ट्रीय नेता ने कहा कि अखिलेशजी के पास इलाहाबाद जाने की अनुमति थी, लेकिन सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद उन्हें रोक दिया जाना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण व निंदनीय पहलू है l देश में ऐसी स्थिति हो गई है कि लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने नहीं दिया गया। इससे पहले देश में ऐसी स्थिति कभी नहीं बनी।

राजद के राष्ट्रीय नेता व विधायक श्री शाहीन ने कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार मनमानी कर रही है। अखिलेश यादवजी पूर्व मुख्यमंत्री हैं और उनको इस प्रकार प्रशासनिक अमले द्वारा रोका जाना दर्शाता है कि योगी आदित्यनाथ लोकतंत्र की गरिमा को तार-तार करने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि इस घटना के विरोध में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे बदायूं से सपा सांसद धर्मेंद्र यादव जी पर पुलिस द्वारा बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज की घटना भाजपा की तानाशाह सरकार द्वारा लोकतंत्र की हत्या का सीधा उदाहरण है। इस सरकार की गुंडागर्दी और तानाशाही चरम पर है। किसानों और मजलूमों के नेता अखिलेश यादव जी की आवाज को सरकार इस तरह से दबाना चाह रही है लेकिन वह मंसूबे में कामयाब नहीं होगी उन्होंने कहा कि यूपी की बीजेपी सरकार का यह कदम अलोकतांत्रिक कृत्य है। यह दर्शाता है कि वे विपक्ष के नेताओं की बढ़ती लोकप्रियता से घबराए हुए हैं। यह अघोषित आपातकाल की पर्याय है।

श्री शाहीन ने कहा कि भाजपा की सरकारे नफरत की राजनीति कर रही हैं l देश में इसके पहले कभी भी ऐसा नहीं हुआ था l इसका कड़े शब्दों में विरोध व्यक्त करते हुए राजद के राष्ट्रीय नेता व विधायक श्री शाहीन ने कहा कि यह मोदी-योगी सरकार की बौखलाहट को दर्शाता है। यह घटना अति-निन्दनीय व बीजेपी सरकार की तानाशाही व लोकतंत्र की हत्या का प्रतीक है। राजद के राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्य व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने कहा कि ये अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ भाजपा की असहिष्णुता का एक और उदाहरण है l वास्तव में लोकतंत्र, संविधान तथा देश आज खतरे में है तथा इतिहास भाजपा को कभी माफ नहीं करेगी ।