Thursday, July 2, 2020
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > चराग़ पासवान को भाजपा से नहीं जदयू से है प्राब्लम , लोजपा के पास जनाधार नहीं, इसलिए अधिक सीट देने को तैयार नहीं जदयू

चराग़ पासवान को भाजपा से नहीं जदयू से है प्राब्लम , लोजपा के पास जनाधार नहीं, इसलिए अधिक सीट देने को तैयार नहीं जदयू

पिछले कुछ दिनों से चराग़ पासवान के सुर बदले हुए हैं, अवसर मिलने पर वो नीतीश कुमार को कोसते भी रहे, बिहार के विकास माडल पर प्रश्न भी उठाते रहे लेकिन किसी ने उनसे ये नहीं पूछा कि आखिर इस प्रकार आलोचना करने का कारण क्या है. अब कारण सामने में आया तो चराग़ पासवान की आलोचनाओं का मक़सद भी समझ में आ गया. बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा को कम सीट मिलने की आशंका में चराग़ पासवान दुबले हो रहे थे और नीतीश कुमार को कोस रहे थे. एनडीए में जदयू, भाजपा और लोजपा है, 243 सीट वाले विधानसभा में जदयू 110, भाजपा 90 और लोजपा 23 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है, ऐसी सूचना निकल कर बाहर आई थी. इस खबर के बाद चराग़ पासवान की आलोचना के पोल खुल गये. लोजपा को भी जनता की नहीं अपनी सीट की पड़ी है और खेल उसी के लिए है.

चुनाव के समय में दबाव की राजनीति से भी कई गंभीर मामले सुलझते हैं लेकिन पूरे कार्यकाल में भरपूर समर्थन और चुनाव के समय में अधिक सीट लेने के लिए आलोचना करने वाले नेताओं के साथ जनता को सोच समझ कर चलना चाहिए. चराग़ पासवान ने भाजपा की आलोचना नहीं की लेकिन नीतीश कुमार का विरोध करते रहे. नीतीश कुमार जानते हैं कि लोजपा का कोई जनाधार नहीं है, लोजपा का वोटबैंक भाजपा, जदयू और राजद में शिफ़्ट हो चुका है और इस लिए लोजपा को अधिक सीट देकर कोई फायदा नहीं है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *