Thursday, July 2, 2020
HINDI NEWS PORTAL
Home > Samachar > भारतीय राजनीति में मुसलमानों को अपना लक्ष्य तैय करना होगा : मुस्लिम लीग

भारतीय राजनीति में मुसलमानों को अपना लक्ष्य तैय करना होगा : मुस्लिम लीग

भारत में मुस्लिम लीग का इतिहास बहुत पुराना है और लोगों को मालूम है की किस प्रकार आज़ादी प्राप्त करने के लिये मुस्लिम लीग ने संघर्ष किया है लेकिन ये बातें बार बार बताने की आवश्यकता इस लिए है कि हम और आप अपने बीते हुए सुनहरे दिन को याद कर के ऊर्जा प्राप्त कर सकें । इस देश में जहाँ भी मुस्लिम लीग की सरकार है या मुस्लिम लीग के सहयोग से सरकार है , वहाँ कानून व्यवस्था ठीक होने के कारण शांति भी है ।

जब से केंद्र में भाजपा की सरकार आई है कानून व्यवस्था खत्म हो गई है , ये सरकार हिंदू और मुस्लिम को लड़ाने का काम कर रही है , इस लिए मुस्लिम लीग ने फ़ैसला किया है कि इस बार लोकसभा चुनाव में भाजपा को केंद्र से दूर रखने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा । खास कर मुसलमानों से अपील है कि वो अपनी ताकत को पहचानें और मुस्लिम लीग में शामिल हो कर इसे मजबूत करें । मुस्लिम लीग नेताओं के ये विचार पार्टी की ओर से रखे गए प्रोग्राम में सामने आये ।

इंडियन युनीयन मुस्लिम लीग की दिल्ली यूनिट ने भारतीय राजनीति में मुस्लिम भागीदारी को लेकर एक सम्मेलन
का तिकोणा पार्क चौपाल , दिल्ली में आयोजन किया , जिस में मुस्लिम लीग के राष्ट्रीय स्तर के नेता  इ टी बशीर  , बसीर अहमद खान  , कौसर हयात खान  , नेसार हयात हुसैनी  , तशरीफ़ जहाँ बेगम और कई अन्य शामिल हुए और आने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर अपनी बातें रखीं । 

इस अवसर पर शमा खान को  दिल्ली स्टेट महिला विंग का कनवेनर मनोनित किया गया  ।सामाजिक कार्यकर्ता  एडवोकेट एच आर खान अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ मुस्लिम लीग पार्टी में शामिल हुए । इस प्रोग्राम का आयोजन इमरान ऐजाज़ , आसिफ अंसारी , सोहेर मंजेरी और एजाज़ करीम ने किया था , इस प्रोग्राम का संचालन इमरान एजाज़ ने किया । इस प्रोग्राम में मोईन कुरेशी , रुबी सबा , तहसीन अहमद सहित सैकड़ों लोग शामिल हुए ।


Share