Home > Mohammad Arif (Page 2)

चराग़ पासवान को भाजपा से नहीं जदयू से है प्राब्लम , लोजपा के पास जनाधार नहीं, इसलिए अधिक सीट देने को तैयार नहीं जदयू

पिछले कुछ दिनों से चराग़ पासवान के सुर बदले हुए हैं, अवसर मिलने पर वो नीतीश कुमार को कोसते भी रहे, बिहार के विकास माडल पर प्रश्न भी उठाते रहे लेकिन किसी ने उनसे ये नहीं पूछा कि आखिर इस प्रकार आलोचना करने का कारण क्या है. अब कारण सामने

Read More

प्राइवेट स्कूल लॉकडॉउन की फीस उगाही बंद करे

प्राइवेट स्कूल जहाँ छात्रों से फीस ले रही हैं वहीं उनके कर्मियों-शिक्षकों को वेतन क़ई महीनों से रोके हुए हैं निजी स्कूलों के इस नाइंसाफी के खिलाफ होगा आंदोलन, 4 जुलाई को डीएम के समक्ष धरना लहेरियासराय, 29 जून 2020। निजी स्कूलों द्वारा उच्च न्यायालय के आदेश का अवहेलना करते हुए अभिभावकों

Read More

रांची में प्रदेश कांग्रेस कमेटी( अल्पसंख्यक) की महत्वपूर्ण बैठक

रांची, 29 जून 2020ः झारखंड प्रदेश काँग्रेस कार्यालय में झारखंड अल्पसंख्यक कांग्रेस की एक महत्वपूर्ण बैठक प्रदेश अध्यक्ष जनाब शकील अख्तर अंसारी के अध्यक्षता में हुई।जिसमे संगठन पर चर्चा के उपरांत कमिटी ने सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया कि सभी जिला में विभाग अपना जिला पर्यवेक्षक नियुक्त कर जिले के

Read More

बनारस के मशहूर शायर ” कबीर अजमल ” नहीं रहे

बनारस के मशहूर शायर कबीर अजमल का 29 जून को मात्र 53 वर्ष की आयू में बनारस के अस्पताल में देहांत हो गया. उनकी मृत्यु की सूचना जैसे ही मिली, मैं ने उनके दोस्त और बनारस के चर्चित शायर खालिद जमाल व बंगलूर में रह रहे मशहूर शायर ग़ुफ़रान अमजद

Read More

घटिया राजनीति ने हमें कितना बदल दिया है, समय मिले तो ज़रूर सोचिए

तहसीन मुनव्वर कभी मौक़ा मिले तो 2014 या 2013 से भी पहले की अपनी पोस्ट या उन पर कमेंट या किसी और दोस्त की पोस्ट या उन पर कमेंट पढ़िएगा। आप को लगेगा ही नहीं यह आप या वह हैं। दोनों ही खुल कर कुछ भी दिल से लिखते थे बिना

Read More

समस्तीपुर विधायक शाहीन ने कई योजनाओं का किया उद्घाटन

समस्तीपुर के स्थानीय विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने रविवार को क्षेत्रीय विकास निधि से लगभग 40 लाख रुपये की लागत से नव निर्मित सड़क व भवन की कुल 05 योजनाओं का उद्घाटन किया। आज उन्होंने समस्तीपुर विधानसभा क्षेत्र के पोखरैड़ा पंचायत के वार्ड - 14 में सिलौत दुर्गा स्थान प्रांगण

Read More

व्यावस्था परिवर्तन की राह – क्या यह चुनावी एजेंडा नहीं होना चाहिए ?

एस. ज़ेड.मलिक आप इस बात को समझ सकते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था को न्याय पूर्ण बनाने का एकमात्र उपाय अमीरी रेखा बनाकर केवल औसत सीमा से अधिक संपत्ति पर ब्याज की दर से संपत्ति कर लगाना और बाकी सभी करों को पूरी तरह खत्म करना है। जब दूसरे सभी करों

Read More

क्या सरकार पत्रकारों से डरती है?

पिछले दिनों में जिस प्रकार देश भर में पत्रकारों को प्रताड़ित किया गया है वह देश और लोकतंत्र दोनों के लिए खतरा है। डॉ. यामीन अंसारी कहा जाता है कि प्रेस की स्वतंत्रता न केवल लोकतंत्र के लिए आवश्यक है, बल्कि यही लोकतंत्र है। यही कारण है कि सभ्य समाज में लोकतंत्र

Read More

कोयला उद्योग – राष्ट्रीयकरण से निजीकरण की ओर ?

जिस समय देश आज़ाद हुआ हमारा कोयला उद्योग निजी मालिकों के हाथों में था और कोयला मजदूरों की स्थिति जानवरों से भी बदतर थी जिसका भली-भांति चित्रण शत्रुघ्न सिंहा की फ़िल्म “ कालिका “ में किया गया है . यह फ़िल्म 1983 में रिलीज़ हुई थी. 1956 में भारत सरकार

Read More

हज और उमराह के संबंध में सऊदी सरकार का निर्णय विवेकपूर्ण

डाॅ. मोहम्मद मंज़ूर आलम दिल्ली- 26 जून - इस साल, हज और उमराह के बारे में सऊदी अरब का निर्णय बहुत बुद्धिमान और विवेकपूर्ण है, क्योंकि सऊदी अरब ने एक साथ शरीयत और चिकित्सा के दिशानिर्देशों का पालन किया है। ये विचार अखिल भारतीय मिल्ली काउंसिल के महासचिव डॉ. मोहम्मद

Read More